भाषाएँ ऑनलाइन सीखिए!

Home  >   50languages.com   >   हिन्दी   >   टिग्रिन्या   >   अनुक्रमणिका


९८ [अट्ठानवे]

दोहरे समुच्चयबोधक अव्यय

 


98 [ተስዓንሸሞንተን]

ድርብ መስተጻምራት

 

 

 पाठ पर क्लिक करें! arrow
  
यात्रा अच्छी रही, लेकिन बहुत थकानेवाली
ट्रेन समय पर थी, लेकिन एकदम भरी हुई थी
होटल आरामदायक था, लेकिन बहुत महंगा
 
 
 
 
वह या तो बस लेगा या ट्रेन
वह या तो आज शाम आएगा या कल सुबह
वह या तो हमारे साथ ठहरेगा या होटल में
 
 
 
 
वह स्पेनी और अंग्रेजी दोनों ही बोल सकती है
वह माद्रिद और लन्दन दोनों में रही है
उसे स्पेन और इंग्लंड दोनों ही मालूम हैं
 
 
 
 
वह केवल मूर्ख ही नहीं, आलसी भी है
वह केवल सुन्दर ही नहीं, बुद्धिमान भी है
वह केवल जर्मन ही नहीं, फ़्रेंच भी बोलती है
 
 
 
 
न मैं पियानो बजा सकता / सकती हूँ न गिटार
न मैं वाल्ज़र नाच सकता / सकती हूँ ना साम्बा
न मुझे ऑपेरा अच्छा लगता और न ही बैले
 
 
 
 
तुम जितना जल्दी काम करोगे, उतना ही तुम जल्दी पूरा कर सकोगे
तुम जितना जल्दी आओगे, उतना ही तुम जल्दी जा सकोगे
कोई जितना उम्र में बढ़ता है, उतना ही वह आरामप्रेमी हो जाता है
 
 
 
 
 

 


Downloads are FREE for private use, public schools and for non-commercial purposes only!
LICENCE AGREEMENT. Please report any mistakes or incorrect translations here.
Imprint - Impressum  © Copyright 2007 - 2018 Goethe Verlag Starnberg and licensors. All rights reserved.
Contact
book2 हिन्दी - टिग्रिन्या प्रारम्भकों के लिए